परछाई…

कौन कहता है,
मैं नहीं हूँ तुम्हारे दिल के क़रीब,
ज़रा अपनी परछाई तो देख लो,
पाओगी उसमें अक्स तुम मेरी।

साथ निभाने का वादा,
जो किया था मैंने अपने दिल से,
अब प्यार करो या ना तुम,
पर पाओगी मुझे अपने दिल में।

नकार सकती हो तुम मेरे वजूद को,
अपने सोच के परिभाषा से,
पर क्या निकाल सकती हो अपने दिल से,
जहां जगह बनाई है मैंने निश्चल प्यार से।

कोई अपेक्षा नहीं, कोई अभिलाषा नहीं,
बस हँसता रहता हूँ तुम्हारी याद दिल लिए,
पाने की चाहत उन्हें होती है,
जिन्हें विश्वास नहीं होता अपने प्यार पे।

तुम ख़ुश रहो बस यही तमन्ना है मेरी,
दुख छू ना पाए तुम्हें यही इक्षा है अब मेरी,
तुमसे दूरी का अहसास नहीं है अब मुझे,
जब तुम्हारी याद आती है, पता हूँ तुम्हें खुद में।

चाहे लाख बुरा कहे कोई मुझे,
अपनी सफ़ाई नहीं दूँगा कभी मैं तुम्हें,
क्योंकि अगर कभी प्यार किया है तुमने मुझसे,
तो विश्वास ज़रूर होगा मुझपे।

कुणाल कुमार

https://madhukosh.com

परछाई…

कौन कहता है,
मैं नहीं हूँ तुम्हारे दिल के क़रीब,
ज़रा अपनी परछाई तो देख लो,
पाओगी उसमें अक्स तुम मेरी।

साथ निभाने का वादा,
जो किया था मैंने अपने दिल से,
अब प्यार करो या ना तुम,
पर पाओगी मुझे अपने दिल में।

नकार सकती हो तुम मेरे वजूद को,
अपने सोच के परिभाषा से,
पर क्या निकाल सकती हो अपने दिल से,
जहां जगह बनाई है मैंने निश्चल प्यार से।

कोई अपेक्षा नहीं, कोई अभिलाषा नहीं,
बस हँसता रहता हूँ तुम्हारी याद दिल लिए,
पाने की चाहत उन्हें होती है,
जिन्हें विश्वास नहीं होता अपने प्यार पे।

तुम ख़ुश रहो बस यही तमन्ना है मेरी,
दुख छू ना पाए तुम्हें यही इक्षा है अब मेरी,
तुमसे दूरी का अहसास नहीं है अब मुझे,
जब तुम्हारी याद आती है, पता हूँ तुम्हें खुद में।

चाहे लाख बुरा कहे कोई मुझे,
अपनी सफ़ाई नहीं दूँगा कभी मैं तुम्हें,
क्योंकि अगर कभी प्यार किया है तुमने मुझसे,
तो विश्वास ज़रूर होगा मुझपे।

कुणाल कुमार

https://madhukosh.com

Washing my eyes…

Memory is a an album,
Where moments can be seen,
Life is a Journey,
Full of dreams….

Sometimes we feel stupid,
Cheated by our own dream,
But can we afford to live,
Without any such dreams….

Its always on us,
To predict life happiness,
But we choose to control emotions,
And let mind set free…

Why can’t we see,
And experience true self,
Where love can be felt,
From true soul not from mind …

I am washing my eyes,
to clean bad feelings,
Will keep good moments,
And make life live it’s dream…

Kunal Kumar
https://madhukosh.com

पुरुष…

ना छल है दिल में,
ना ही कपट किसी के लिए,
बस ढूँढता है दिल उसे,
जो समझ पाए कभी मुझे।

दिन बदले,
बदले महीने और साल,
ऋतु बदलते गए यूँ ही,
पर ना मिल पाया किसी अपने का साथ।

क्या ज़्यादा चाहा था दिल मेरा,
चाहता था बस सच्चाई भरा साथ,
पर आपको शायद ज़्यादा की चाहत थी,
इसीलिए किया आपने अनेकों से प्यार।

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

कौन…

यों पास आते है लोग,
प्यार करने का दिखावा करते है अनेक,
जब दिल चाहने लगता है उन्हें,
तभी असलियत से पहचान करवाते है वो हमें।

इज़्ज़त और अभिमान,
जीना था हमें लिए स्वामिभान,
पहले तो किया आपने प्यार,
फिर कुचल दिया हैं मेरा स्वामिभान।

क्यों निरीह सा बनूँ मैं,
नहीं झुकना है मुझे कभी,
सर उठा कर जीना है मुझे,
चाहे जीवन जीना परे अकेले अभी।

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

उपहार…

कवि बना,
भूल गया मैं सब कुछ,
प्यार तो हुआ नहीं तुम्हें मुझसे,
पर सोच क्यों हुई खोटी तुम्हारी मेरे लिए।

मैंने तो जीना सिखा,
तुम्हारे अहसास के अनुभूति से,
तुमने क्यों नहीं सोचा कभी,
मेरे दिल में सिर्फ़ प्यार था तेरे लिए।

आज मैंने वादा किया खुदसे,
भूल जाऊँगा तुम्हारी याद को खुदसे,
बस थोड़ा समय दो तुम मुझे,
ताकि दफ़न कर दूँ हर याद को अपने दिल में।

यही है मेरे जन्मदिन का तोहफ़ा तेरे लिए…..

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

उपहार…

कवि बना,
भूल गया मैं सब कुछ,
प्यार तो हुआ नहीं तुम्हें मुझसे,
पर सोच क्यों हुई खोटी तुम्हारी मेरे लिए।

मैंने तो जीना सिखा,
तुम्हारे अहसास के अनुभूति से,
तुमने क्यों नहीं सोचा कभी,
मेरे दिल में सिर्फ़ प्यार था तेरे लिए।

आज मैंने वादा किया खुदसे,
भूल जाऊँगा तुम्हारी याद को दिलसे,
बस थोड़ा समय दो तुम मुझे,
ताकि दफ़न कर दूँ हर याद को अपने दिल में।

यही है मेरे जन्मदिन का तोहफ़ा तेरे लिए…..

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

दर्द…

तुम्हारे दर्द का अहसास,
मुझसे बेहतर कौन जानेगा,
जो जी रहा हैं तेरे याद में,
तुमसे दूर रहने का दर्द दिल लिए।

शायद ये सोच की दिवार है,
जो दूर रखा है आपको मुझसे,
वैसे तो मैं तैयार था,
और आज भी तैयार हूँ समझने को तुम्हें।

कभी कभी होता हैं,
कुछ लोगों को हम समझते हैं अपने,
पर जो तुम्हें अपने हाल पे छोड़ दे,
उनके लिए तकलीफ़ क्यों है दिल में तेरे।

भी सोचो तुम ज़रा,
शायद सच्चाई हो तुम्हारे खड़ा,
चाहता है तुम्हें सच्चे दिल से,
पर तुम्हें ना जाने क्यों मतलब दिखता है उसमें।

बस इतना करना है आज तुम्हें,
भूल जाओ जो नहीं हैं तुम्हारे अपने,
अब खुद का वजूद बनाओ तुम,
ताकि पराए भी तरसे तुम्हें बनाने को अपने।

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

भोली सी सूरत…

भोली सी सूरत में,
तुम समेटे हो कितने राज,
कभी तुम मुझसे दूर हो,
कभी तुम हों मेरे पास।

कभी इकरार कभी इंकार,
ये नाटक देखा मैंने सौ सौ बार,
मान लिया तुम्हें खुद से है प्यार,
पर काश तुम समझ पाती औरों का भी प्यार।

अभी तक सोचती हो,
तुम जी सकती हो दोहरी ज़िंदगी,
जिसके लिए दिल में है तुम्हें प्यार,
उसके लिए तुम हो बस एक अतिरिक्त यार।

अब थोड़ा आगे का सोचो,
अपने सोच के परिप्रेक्ष्य से निकलो,
जो तुम्हारे लिए नहीं छोड़ सकता अपनी ख़ुशी,
उसकी सोच लेकर क्यों जी रही हो तुम अपनी ज़िंदगी।

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

अतिरिक्त ख़ुशी…

सर्द हवाओं के थपेड़ों से,
मेरे यादों के झरोखे खुल से गए,
जिन यादों को बंद रखा था दिल में,
वो आँखों से चुप चाप बह निकले।

सच्चाई बयान नहीं कर सकता,
दूर रहने का ग़म छुपा भी नहीं सकता,
इसी कशमकस में कट रही है ज़िंदगी,
इंतज़ार हैं काश तुम समझ पाती मुझे कभी।

नहीं जीना हैं मुझे,
बनकर तुम्हारी अतिरिक्त ख़ुशी,
बस जीना है मुझे,
बनकर तुम्हारी हर ख़ुशी।

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

तुम ख़ुश तो हो ना ?

तुम ख़ुश तो हो ना ?
अपने सोच के परिपेक्ष से संतुष्ट हो ना ?
हर ग़म के साया से दूर हो ना ?
अपनी बनाई दुनिया में परिपूर्ण हो ना ?

अपनों के ख़ुशी के लिए,
तुमने अपनों को भूला दिया,
इससे बड़ा त्याग,
और किसी ने क्या कभी किया होगा ।

बस इतना ही कहूँगा मैं आज,
आप जीयो ख़ुशियों के साथ,
जिसके दिल में सच्चाई हो,
वही रहे आपके पास बनकर आपका प्यार।

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com

विरह…

विरह तो एक सोच हैं उनका,
जो करते है क्षणिक प्यार,
दिल से जो प्यार करते है,
उन्हें विरह से भी होता है लगाव।

सुबह हो या शाम हो,
बस करते रहते है उनका ध्यान,
वो पास ना रहना चाहे तो क्या,
अपनी याद तो छोड़ गयी हैं जीने के लिए।

एक दिन वो समझ जाए,
बस यही है दिल में मेरे ख़्याल,
वापस लौट कर वो आ जाए,
बन कर सिर्फ़ मेरा प्यार।

उनके आँचल के छाँव में,
बस कुछ सासें मैं काट लूँ,
यहीं है तमन्ना मेरे दिल में,
उनके साथ रहकर अपना जीवन सुधार लूँ।

कुणाल कुमार
Insta: @madhu.kosh
Telegram: https://t.me/madhukosh
Website: https://madhukosh.com